यादव समाज का छत्तीसगढ़ के विकास और संस्कृति को सहेजने में बड़ा योगदान : मंत्री डॉ डहरिया

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा श्रम मंत्री डॉ शिवकुमार डहरिया यादव नगर पंचायत मंदिर हसौद में यादव ठेठवार समाज के 24 गाँव परिक्षेत्र के दो दिवसीय वार्षिक सम्मेलन में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार सभी वर्ग और समाज को साथ लेकर विकास कार्यों को पूरा कर रही है। छत्तीसगढ़ के विकास में सभी समाज का योगदान है। उन्होंने कहा कि यादव समाज की अपनी पहचान स्थापित है। छत्तीसगढ़ी संस्कृति को बढ़ावा देने के साथ उसे सहेजने में भी समाज के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। समाज के लोगों को चाहिए कि वे अपने आने वाले पीढ़ी को खूब पढ़ाये और एक बेहतर इंसान बनाते हुए ऊँचे पद तक पहुचाए।

Chhattisgarh Crimes

सम्मेलन में मंत्री डॉ डहरिया ने कहा कि छत्तीसगढ़ की सरकार मंदिर हसौद क्षेत्र में विकास कार्यों को लेकर सजग है। मंदिर हसौद को नगर पंचायत भी इसीलिए बनाया गया है। चंदखुरी में रामवन गमन पथ को विकसित कर पर्यटन को बढ़ावा दिया जा रहा है। सरकार द्वारा एक रुपए किलो में चावल दिया जा रहा है। गौ संरक्षण की दिशा में भी बहुत बड़ा कदम उठाया गया है। हर जगह गोठान निर्माण के साथ गौ धन, गौ उत्पादों के माध्यम से आत्मनिर्भर बनने के द्वार खोले हैं। मंत्री डॉ डहरिया ने कहा कि 2 रुपए किलों की दर से गोबर खरीदा जा रहा है। इससे गौ पालन करने वाले को भी लाभ पहुँच रहा है। उन्होंने समाज के लोगों के लिए सामुदायिक भवन हेतु 10लाख रुपए देने की घोषणा भी की।

सम्मेलन की अध्यक्षता पुनीत यादव, श्रीमती दुर्गेश्वरी यादव, सुनीता यादव ने किया। इस अवसर पर मंत्री डॉ डहरिया ने बोर्ड परीक्षा में उत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों, विशिष्ट सेवा करने वाले समाज के लोगों और बुजुर्गों का सम्मान किया गया। सम्मेलन में समाज द्वारा लिए गए निर्णय की सराहना हुई। इस दौरान समाज के राजू यादव, संतोष यादव, प्रकाश यादव, संरक्षक पुना राम यादव, जय राम यादव, नोहर यादव आदि उपस्थित थे।