सुसाइड नोट लिखकर फांसी में झूल गया युवक

Chhattisgarh Crimes

कोरबा। जिले के रामपुर चौकी क्षेत्र अंतर्गत नकटीखार निवासी 34 वर्षीय राजेश प्रधान ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या  कर ली. बताया जा रहा है कि वह काफी दिनों से डिप्रेशन में था, जिस वजह से उसने खुदकुशी की.

हालांकि यह डिप्रेशन पारिवारिक या व्यक्तिगत था, इसकी अभी पुष्टि नहीं हो पाई है. मिली जानकारी के अनुसार एसईसीएल कुसमुंडा से रिटायर्ड एसईसीएल कर्मी जीतू प्रधान अपने परिवार में सबसे बड़ा बेटा है. राजेश प्रधान उसकी पत्नी, एक बच्ची, एक भाई और बच्चों सहित नकटीखार क्षेत्र में निवास करते थे.

जीतू प्रधान कुसमुंडा क्षेत्र अंतर्गत विकास नगर एमडी कॉलोनी में रहते थे. रिटायरमेंट होने के बाद नकटीखार में पूरा परिवार सहित रहते थे. घटना के वक्त राजेश प्रधान घर पर अकेला था. राजेश के माता-पिता कोलकाता उसकी बेटी से मिलने गए थे , छोटा भाई मृतक राजेश की बेटी को स्कूल लेने गया हुआ था.

वापस घर लौटने पर घर के पीछे बने कमरे में अपने भाई राजेश प्रधान का शव उसने लटके हुए देखा, घटना की सूचना रामपुर पुलिस को दी गई है. पुलिस मौके पर पहुंचकर पंचनामा कर शव को जिला अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दी है.

वहीं इस घटना के बाद परिवार में मातम का माहौल है. मृतक के पॉकेट से सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें लिखा है कि मेरी पत्नी अंजना मुझे माफ करना मैं तुम्हारा साथ नहीं दे सका.