आरक्षक की नौकरी दिलाने ठगे थे 15 लाख रुपये, आरोपी गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

भिलाई। पुलिस में आरक्षक की नौकरी दिलाने के नाम पर तीन लोगों से ठगी करने वाले आरोपित को रानीतराई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपित ने तीनों से 15 लाख रुपये लिए थे। तीनों ने रानीतराई थाने में इसकी शिकायत की थी। जांच में शिकायत सहीं पाए जाने पर आरोपित को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस के मुताबिक प्रार्थी मिलेश चतुर्वेदी, केवल कुमार बांधे तथा कुंदन कुमार द्वारा फरसगांव जिला कोण्डागांव निवासी दीपेन्द्र कुमार नाग (35) के विरुद्ध पुलिस विभाग में आरक्षक के पद पर नौकरी लगाने के नाम पर तीनों से 15 लाख रुपये लेकर घोखाधडी करने के संबंध में शिकायत की थी। जांच के बाद पुलिस ने दीपेन्द्र कुमार नाग के खिलाफ 420 के तहत प्राथमिकी दर्ज की। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से आरोपित फरार था। रानीतराई पुलिस द्वारा लगातार उसकी तलाश की जा रही थी।

बताया जा रहा है कि आरोपित दीपेन्द्र कुमार नाग लगातार अपना ठिकाना बदल कर पुलिस को चकमा दे रहा था। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एक टीम गठित की गई। सायबर सेल की मदद से आरोपित का लोकेशन ट्रेस कर आरोपित को उसके गृहग्राम फरसगांव जिला कोंडागांव से पकडा गया।