परिवार से मिलने पहुंची 5 लाख की इनामी महिला नक्सली गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

कांकेर। कांकेर की डीआरजी, फॉल्कान टीम, जिला बल व 4 वीं वाहिनी बीएसएफ की सीओबी डुट्टा से एमडी इस्लाम एसी, सुशील पटेल निरीक्षक, हरीशंकर ध्रुव उप निरीक्षक, सौरभ उपाध्याय उप निरीक्षक थाना प्रभारी कोयलीबेड़ा, हेमन्त साहू सहायक उप निरीक्षक, श्रवण कुलदीप सहायक उप निरीक्षक, संपत टांडिया सहायक उप निरीक्षक के हमराह बीएसएफ व डीईएफ की संयुक्त टीम थाना कोयलीबेड़ा क्षेत्रांतर्गत ग्राम केशोकोड़ी, गट्टाकाल की ओर नक्सल गस्त सर्चिंग पर रवाना हुई थी। गस्त सर्चिंग के दौरान जरिये मुखबीर सूचना पर ग्राम गट्टाकाल की महिला नक्सली दशरी उर्फ समीता पति तीजू कोरसा अपने परिवार से मिलने आई है जो वर्तमान में माओवादी संगठन के किसकोड़ो एरिया कमेटी सदस्या के रूप में सक्रिय रहकर कार्य कर रही है। सूचना पर घेराबंदी कर महिला को पकड़कर पूछताछ करने पर अपना नाम दशरी उर्फ समीता पति तीजू कोरसा बताई।

वह वर्ष 2007 से सक्रिय रूप से नक्सली संगठन में रहकर पानीडोबिर एलओएस, मिलिट्री कम्पनी नम्बर 05, कुएमारी एलओएस में कार्य की है एवं वर्तमान में किसकोड़ो एरिया कमेटी सदस्य के पद पर कुऐमारी क्षेत्र में कार्य कर रही है।

गिरफ्तार माओवादी के खिलाफ पूर्व से कोयलीबेड़ा थाने में एक स्थाई वारंट के अलावा कोरर एवं कोतवाली थाने में पुलिस पार्टी पर हमला, आगजनी जैसे गंभीर मामले में तलाश थी। इसके अलावा जिला कोण्डागांव एवं नारायणपुर जिले में किए अपराधों की जानकारी ली जा रही है। गिरफ्तार माओवादी पर छ.ग. शासन की ईनाम पॉलिसी के तहत उक्त महिला माओवादी एरिया कमेटी सदस्या पर 05 लाख रुपए का ईनाम घोषित है।

इन वारदातों में रही शामिल

वर्ष 2008 में थाना कोयलीबेड़ा क्षेत्रांतर्गत ग्राम गट्टाकाल निवासी बृजलाल पिता सिताराम तेता उम्र 45 वर्ष को जबरदस्ती उसकी दोनो लड़कियों एंव लड़के को दलम मे देने की बात कहकर मारपीट करने की घटना में शामिल थी।

वर्ष 2015 में थाना कोरर क्षेत्रांतर्गत बरबसपुर लौह आयस्क खदान (काईन डोंगरी माईन्स) की मषीनों एवं वाहनों में आगजनी की घटना में शामिल थी।