नीलगाय के शिकार के मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

धमतरी। जिले में नीलगाय के शिकार करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. वन परिक्षेत्र उत्तर सिंगपुर के ग्राम कुसुमखुटा में मादा नीलगाय को जहरीला पानी देकर मार दिया गया. उसके बाद घटनास्थल से दूर ले जाकर मांस काटकर आपस में बांट लिया गया. अब पुलिस ने मामले में 7 आरोपी को धर दबोचा है.

पुलिस ने नीलगाय के शिकार के मामले में 7 आरोपियों को सामग्रियों के साथ पकड़ा है. गिरफ्तार आरोपियों में राजू (31 वर्ष), शिव कुमार (28 वर्ष), गौतम कुमार (35 वर्ष), सुखदेव (31 वर्ष), भारत (44 वर्ष), राजेंद्र (29 वर्ष) ग्राम कुसुमखुटा निवासी और नोहर सुकलाल गोड़ पेंड्रा ग्राम निवासी शामिल है. पुलिस ने सभी के खिलाफ वन्य प्राणी का शिकार कर मांस खाने, साक्ष्य मिटाने के जुर्म में वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9, 50, 51, 52 के तहत कार्रवाई किया है.

बताया गया कि 22 मई को नीलगाय का शिकार किया गया था. इस कार्रवाई में वनमंडलाधिकारी सतोविसा समाजदार, उप वनमंडलाधिकारी टी.आर. वर्मा, पंचराम साहू, उत्तर सिंहपुर, मुकुंदराव वाहने, मेहंदी ओंकार सिन्हा, वनरक्षक चुरामन लाल पटेल, वनरक्षक पारस राम, वनरक्षक का योजदान था.