डेढ़ महीने बाद DNA टेस्ट से पुष्टि हुई- कार में बुरी तरह से जल चुका शव दुर्ग के व्यवसायी राजा जैन का ही है

Chhattisgarh Crimes

भिलाई। दुर्ग के चरोदा में दारू भट्ठी के पास 30 अगस्त को कार में जलकर मरे व्यक्ति की पहचान हो गई है। बुधवार को आई DNA टेस्ट की रिपोर्ट से पता चला है कि शव दुर्ग के व्यवसायी राजा जैन का था। वे ही कार के मालिक भी थे। घटना के समय कार करीब एक घंटे तक जलती रही थी, मगर लोग मदद के लिए आगे आने की जगह वीडियो बनाकर उसे सोशल मीडिया पर पोस्ट करने में व्यस्त रहे थे।

पुलिस के अनुसार 30 अगस्त की शाम को चरोदा में शराब दुकान के समीप एक मारुति रिट्ज कार में अचानक आग लग गई थी। कार में आग बुझने के बाद जब लोगों ने देखा कि ड्राइविंग सीट पर एक शव पड़ा है, तो सभी के रोंगटे खड़े हो गए। शव बुरी तरह जल गया था। इससे उसकी पहचान करना मुश्किल था। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था।

कार के नंबर से उसके मालिक का पता चलने और परिजन से बात करने पर यह तो तय हो गया था कि वह लाश चरौदा निवासी बिल्डिंग मटेरियल सप्लायर राजा जैन की है। शव के कपड़े से लेकर पूरे शरीर के ऊपरी आवरण में ऐसा कुछ भी बचा नहीं जिससे कोई भी दावे के साथ यह कह सके कि लाश कार के मालिक राजा जैन की ही है। CSP विश्वास चन्द्राकर ने बताया कि पुलिस ने मृतक की पहचान को पुख्ता करने DNA टेस्ट कराने के लिए कोर्ट में आवेदन किया। कोर्ट से परमीशन मिलने के बाद DNA जांच हुई। रिपोर्ट से यह पुख्ता हो गया कि मृतक राजा जैन ही था।