प्रदेश के सभी बस व टैक्सी में लगेगा जीपीएस, पैनिक बटन दबाते ही महिलाओं की सुरक्षा के लिए पहुंचेगी पुलिस : मंत्री मोहम्मद

प्रदेश के 13 हजार बसों और 5 हजार के करीब टैक्सी में अभी जीपीएस के तहत पैनिक बटन लगाया जायेगा। सभी सार्वजनिक वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाना अनिवार्य हो गया है। निर्भया योजना से 60 प्रतिशत और राज्य सरकार 40 प्रतिशत राशि वहन करने की योजना है। उसी के तहत केंद्र से अपने अंशदान के तौर पर 15.40 करोड़ रूपये का आवंटन छत्तीसगढ़ को मिला है। वाहनों में जीपीएस सिस्टम को ट्रैक करने कंट्रोल एंड कमांड सेंटर की स्थापना की जाएगी। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने निर्भया फंड से बसों में जीपीएस सिस्टम लगाने का फैसला 1 जनवरी 2019 से लागू किया है, लेकिन राशि की वजह से अब तक प्रदेश में इसका क्रियान्वयन नहीं हो सका है। अब राशि मिलने के बाद योजना का क्रियान्वयन किया जा रहा है। मंत्री मोहम्मद अकबर के मुताबिक फिटनेस चेकिंग के दौरान इसकी मोनिटरिंग की जायेगी। उन्होंने कहा कि इस सिस्टम को भविष्य में डायल 112 सर्विस से भी जोड़ा जा सकता है।