और जब मंत्री का फर्जी लेटर बनाकर बर्खास्त समिति प्रबंधक पहुंच गया ज्वाइनिंग करने, मामला दर्ज

Chhattisgarh Crimes

अंबिकापुर। मंत्री का फर्जी लेटर बनाकर बर्खास्त समिति प्रबंधक ज्वाइनिंग करने पहुंच गया। विभाग को जब इस फर्जी लेटर की खबर लगी तो हड़कंप मच गया। अब इस मामले कोतवाली पुलिस ने बर्खास्त समिति प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। मंत्री प्रेमसाय सिंह ने भी इस आदेश को फर्जी बताते हुए कार्रवाई के निर्देश दिये हैं।

कांग्रेस प्रदेश सचिव शैलेंद्र प्रताप सिंह ने कोतवाली में शिकायत दर्ज कराया था, जिसमें कहा गया था कि कुन्नी समिति के पूर्व प्रबंधक राजीव वर्मा को भ्रष्टाचार के आरोप में संचालक मंडल कुन्नी ने बर्खास्त कर दिया गया था। साथ ही सहकारी विभाग द्वारा 3 सदस्यीय टीम बनाकर राजीव वर्मा के खिलाफ जांच की जा रही है। इसी बीच राजीव वर्मा सहकारिता मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह के कथित हस्ताक्षर से फर्जी लेटर बना लिया और अपनी ज्वाइनिंग के निर्देश के साथ डीआर सहकारिता विभाग पहुंच गया।

उधर विभाग ने जब इस मामले में अनभिज्ञता दिखायी तो ज्वाइनिंग का दवाब बनाना उसने शुरू कर दिया। इधर विभाग ने जब मंत्री प्रेमसाय सिंह से संपर्क किया तो उन्होंने ऐसे किसी भी आदेश को जारी करने से अनभिज्ञता दिखायी, साथ ही उन्होंने इस मामले में कार्रवाई के निर्देश दिये। कोतवाली पुलिस ने आरोपी राजीव वर्मा के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468 व 471 के तहत अपराध दर्ज किया है।