विकसित होते रायपुर शहर को मिली विकास कार्यों की नयी सौगातें

  • 25.38 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित कमल विहार फ्लाई ओवर का लोकार्पण
  • 27.79 करोड़ रुपए की लागत के 4 विकास कार्यों का मुख्यमंत्री ने किया भूमिपूजन

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। तेजी से विकसित हो रहे रायपुर को विकास कार्यों की नई सौगातें मिली हैं। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज कमल विहार के निकट, नेशनल हाईवे पर निर्मित 831 मीटर लंबे फ्लाई ओवर का लोकार्पण किया। इसकी कुल लागत 25.38 करोड़ रुपए है। कमल विहार फ्लाई ओवर के लोकार्पण से आवागमन में सहूलियत होगी तथा स्थानीय लोगों को इससे काफी लाभ होगा।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने 27.79 करोड़ रुपए लागत के 4 महत्वपूर्ण निर्माण कार्यों का भूमिपूजन भी किया। इन कार्यों में आरंग से खपरी पहुंच मार्ग में अकोली खुर्द के पास नाला में पुलिया निर्माण, टेकारी-पलौद मार्ग पर पलौद नाला में उच्च स्तरीय पुल एवं पहुंच मार्ग का निर्माण, बिरोदा से सिंगार भाठा मार्ग पर कोलर नाला एवं टंकी नाला पर उच्च स्तरीय पुल एवं पहुंच मार्ग का निर्माण तथा लखना-चंपारण मार्ग के शक्ति नाला पर उच्च स्तरीय पुल एवं पहुंच मार्ग का निर्माण कार्य शामिल है।

पिछले साढ़े तीन वर्षों में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के प्रयासों से रायपुर शहर के जनजीवन को अधिक सुगम और सुविधापूर्ण बनाने के लिए लगातार काम किया जा रहा है तथा आज जिन कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया गया है, उनसे शहर का यातायात और भी सुगम होगा। गौरतलब है कि शहरों को सुंदर और व्यवस्थित बनाने के साथ साफ-सुथरा पर्यावरण सुनिश्चित करना भी छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार का लक्ष्य है। इसीलिए सड़कों और पुल-पुलियों के निर्माण के साथ-साथ शहर की हवा और पानी को भी प्रदूषण-मुक्त करने के लिए ये महत्वपूर्ण पहल मुख्यमंत्री द्वारा की गयी है।

कार्यक्रम का तकनीकी प्रतिवेदन लोक निर्माण विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने प्रस्तुत किया. इस मौके पर गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, संसदीय सचिव विकास उपाध्याय, संसदीय सचिव, विधायक  धनेन्द्र साहू समेत अनेक जनप्रतिनिधि एवं लोक निर्माण विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।