गरियाबंद पुलिस को मिली सफलता, लेप्स हो चुके एलआईसी का पैसा निकालने के नाम पर ऑन लाईन धोखाधड़ी करने वाली आरोपिया चढ़ी पुलिस के हत्थे

दिल्ली की आरोपिया को कोरिया जिला थाना मनेन्द्रगढ़ से किया गया गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

गरियाबंद। लेप्स हो चूके लाइफ इंश्योरेंस की राशि को वापस दिलाने का झांसा देकर ठगी करने वाली दिल्ली की एक महिला को सिटी कोतवाली पुलिस ने कोरिया ज़िला के मनेंद्रगढ़ से गिरफ्तार किया है। आरोपी ने केशडार निवासी प्रदीप बराई से क़रीब एक लाख रुपए की धोखाधड़ी किया था ।

थाना सिटी कोतवाली गरियाबंद से मिली जानकारी अनुसार क्षेत्र के केशेडार निवासी प्रदीप बारई द्वारा 16 जून 2021 को सिटी कोतवाली गरियाबंद में रिपोर्ट दर्ज कराया कि माह अगस्त 2020 को प्रिया शर्मा सेवी सर्विस मोबाईल नं. 9540251850 से उसे फोन कर बताई की आपका लेप्स हो चुके LIC बीमा का पैसा निकाल देगे बोलकर विश्वास में लेकर अलग अलग व्यक्तियों द्वारा अलग अलग मोबाईल नंबरो से बात करने पर उनकी बातो में आकर उसने सर्व प्रथम 6350 रूपए फिर 16 सितंबर 20 को 92500 रूपए RTGS किया परंतु उसे बीमा की राशि नही मिला।

इसके बाद उसने आन लाईन 98,870 रूपए के धोखाधडी का शिकार होने की रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। जिला गरियाबंद पुलिस कप्तान पारूल माथुर के दिशा निर्देश, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक चंद्रेश ठाकुर के मार्गदर्शन, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस गरियाबंद संजय ध्रुव के पर्यवेक्षण में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली गरियाबंद निरीक्षक सत्येन्द्र सिंह श्याम द्वारा टीम गठित कर आरोपी को पकड़ने के लिए विवेचना के दौरान समाचार पत्र के माध्यम से जानकारी प्राप्त हुआ कि जिला कोरिया थाना मनेन्द्रगढ़ के धोखाधड़ी के प्रकरण में गिरफ्तार आरोपिया कु. नैना राजपूत पिता अशोक कुमार उम्र 21 साल साकिन मकान नंबर 227/08 गली नंबर 07 अशेाक नगर मंडोली, थाना मंडोली दिल्ली हाल मुकाम दिगम्बर जैन मंदिर के सामने शंकर नगर थाना लक्ष्मीनगर जिला दिल्ली (पूर्वी) को पूछताछ किया गया जो थाना गरियाबंद के प्रकरण में प्रार्थी से जिस मोबाईल नंबर 9540251850 एवं 9540355852 से महिला आरोपी बात की है व खाता क्रमांक 63131600837 में पैसा का ट्रांजेक्शन हुआ है।

थाना मनेन्द्रगढ़ जिला कोरिया और थाना सिटी कोतवाली गरियाबंद के प्रकरण मे उपयोग मोबाईल नंबर व बैंक खाता एक ही है। जो थाना गरियाबंद के प्रकरण में संलिप्तता होने संबंधी जानकारी मिलने आरापिया को पकडने में कामयाबी हासिल किये आरोपी को पुछताछ करने पर अपराध करना स्वीकार किया है। आरोपिया को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली गरियाबंद निरीक्षक सत्येन्द्र सिंह श्याम, सउनि अजय सिंह, प्र.आर. डिगेश्वर साहू, आर. मुरारी यादव, संजय सूर्यवंशी, अवध पटेल, मनीष चेलकर, योगेश सिंह, भूषण नागेश, सुखसागर नाग, शिवलाल तिर्की, मुकेश टोप्पो, सोमनाथ दीवान, सतीश साहू, सत्यप्रकाश देवांगन म.आर. श्रद्धाकला खुंटे की सराहनीय भूमिका रही।