न्यू रायपुरा हॉस्पिटल के डॉक्टर्स का गजब कारनामा, निगेटिव रिपोर्ट पर भी लगा दिए रेमडेसीवीर के 6 इंजेक्शन

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। प्रदेश में कोरोना के बड़ी संख्या में मरीज सामने आने के बाद सरकारी अस्पतालों में दबाव बढ़ गया है। कई मरीजों को निजी अस्पतालों में भी जगह नहीं मिला पा रही है। लेकिन राजधानी रायपुर का न्यू रायपुरा हॉस्पिटल इस आपदा को अवसर में बदलने में लगा हुआ है।

इस हॉस्पिटल में प्रबंधन मरीजों से न केवल मनमाने ढंग से पैसा वसूल कर रहे है बल्कि मरीजों से बदसलूकी भी कर रहे है। जब परिजनों ने अस्पताल प्रबंधन से पूछा कि किस बात के लिए इतने पैसे लिए गए है तो हॉस्पिटल का कहना था कि पैसे दो और चुप चाप जाओ।

बेड चार्ज के नाम पर वसूली

एक तरफ जहां सरकार मरीजों को सस्ते दामों में ईलाज करवाने का दावा कर रही है। वही दूसरी ओर न्यू रायपुरा हॉस्पिटल प्रबंधन मरीजों से मोटी रकम वसूली कर रही है। अस्पताल में भर्ती मरीज का कहना है कि उनसे इलाज के नाम पर प्रतिदिन के हिसाब से हजारों की राशि ली गई है। इसके साथ ही अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग चार्ज भी लगाए है।

कोरोना रिपोर्ट निगेटिव होने के बाद भी लगा दिए रेमडेसीवीर के 6 इंजेक्शन मरीज का कहना है कि उन्होंने कोरोना संक्रमण की अंदेशा होने पर आरटीपीसीआर टेस्ट करवाया था। जिसमें उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आई है। बावजूद इसके अस्पताल प्रबंधन ने उन्हें कोरोना का मरीज बताकर रेमडेसीवीर के 6 इंजेक्शन लगा दिए। अस्पताल प्रबंधन से मरीज और उनके परिजनों ने इस बाबत उनसे सवाल किए तो अस्पताल प्रबंधन ने अपना धौंस दिखाते हुए चुप चाप चले जाने की बात कही।

Chhattisgarh Crimes