सीएम हाउस घेरने निकले नर्सिंग छात्रों की पुलिस के साथ हुई धक्का-मुक्की

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। शुक्रवार को रायपुर की सड़कों पर नर्सिंग स्टूडेंट के जोरदार नारे सुनाई दे रहे थे। स्टूडेंट कह रहे थे परीक्षा लेने की फुर्सत नहीं, यह कैसी सरकार है। जनता कांग्रेस के समर्थन के साथ नर्सिंग स्टूडेंट्स का एक बड़ा जत्था बूढ़ा तालाब के धरना स्थल से सीएम हाउस की ओर रैली की शक्ल में आगे बढ़ा। श्याम टॉकीज से ठीक पहले पुलिस की टीम ने बैरिकेड लगाकर छात्रों को रोक लिया। इसकी वजह से स्टूडेंट्स पुलिस और स्टूडेंट के बीच जमकर धक्का-मुक्की भी हुई।

जनता कांग्रेस के नेता प्रदीप साहू और उनके समर्थक सड़क पर ही लेट गए। स्टूडेंट्स ने भी सड़क पर ही धरना देकर रघुपति राघव गाना शुरू कर दिया। जनता कांग्रेस नेता और छात्रों ने पुलिस अफसरों से पूछा कि यह सरकार ऑनलाइन शराब बेच सकती है, लेकिन 2 साल से रुकी हमारी परीक्षा को ऑनलाइन नहीं लिया जा रहा।

नर्सिंग स्टूडेंट्स बूढ़ा तालाब के धरना स्थल से सीएम हाउस घेरने निकले। जहां जनता कांग्रेस के नेता प्रदीप साहू ने छात्रों को संबोधित भी किया।
नर्सिंग स्टूडेंट्स बूढ़ा तालाब के धरना स्थल से सीएम हाउस घेरने निकले। जहां जनता कांग्रेस के नेता प्रदीप साहू ने छात्रों को संबोधित भी किया।

कोरोना की वजह से प्रदेश भर के नर्सिंग इंस्टिट्यूट परीक्षा नहीं ले सके हैं। छात्र लगातार इस बात की मांग कर रहे हैं कि उनकी परीक्षा ली जाए ताकि वह भी अपना करियर संवार सकें। लगातार इसे लेकर छात्रों ने कई बार स्वास्थ्य मंत्रालय को भी अपनी बात से अवगत कराया। खुद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से भी कई बार ज्ञापन देकर छात्रों ने बातचीत की मगर बात नहीं बनी ।

इसलिए अब जनता कांग्रेस के समर्थन के साथ नर्सिंग स्टूडेंट्स सड़कों पर उतर आए हैं और सरकार के खिलाफ खुले तौर पर विरोध कर रहे हैं और परीक्षा ऑनलाइन लिए जाने की मांग की जा रही है। इधर, छात्रों ने जिद रख दी है कि जब तक कोई जिम्मेदार उनसे मिलने नहीं आता वह सड़क से नहीं उठेंगे। पुलिस अधिकारियों से छात्रों ने बात करने से इनकार कर दिया है।