प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने जारी किया निर्देश, 12वीं बोर्ड परीक्षा से छात्रों को वंचित नहीं रखेंगे निजी स्कूल

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने निजी स्कूलों को दिशा-निर्देश जारी कर बच्चों को परीक्षा से वंचित नहीं रखने की बात कही है. 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए ऑनलाइन प्रवेश पत्र जारी करने से निजी स्कूलों की मुश्किलें बढ़ी है. निजी स्कूलों ने बच्चों की फीस को लेकर दबाव बना रहे थे. पूरी फीस देने के बाद ही प्रवेश पत्र देने की बात कही गई थी.

छत्तीसगढ़ प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव गुप्ता ने कहा कि यदि निजी स्कूल संचालक बच्चों की फीस को लेकर दबाव बनाते है, तो उन्हें समझाइश दी जाएगी. फीस का मामला बाद में भी देखा जा सकता है, लेकिन बच्चों को परीक्षा से वंचित नहीं किया जाएगा. हम पालकों से भी ये मांग करते है कि वे भी निजी स्कूलों की आर्थिक स्थिति समझे और फीस अदा करें, क्योंकि निजी स्कूलों की स्थिति भी बेहद खराब है.

उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार बंद होने वाले स्कूलों की संख्या बढ़ रही है. पालकों को भी समझना होगा कि यही स्थिति रही तो आने वाले समय में शिक्षा भी महंगी होगी क्योंकि फीस ना मिलने की वजह से काफी स्कूल बंद होने की कगार पर है, जिसकी वजह से परिजनों को अपने बच्चों को किसी दूर के स्कूल में महंगी फीस पर पढ़ाने को मजबूर होना पड़ेगा.