दिवाली-छठ पर 392 नई ट्रेनें चलाएगी रेलवे

Chhattisgarh Crimes

नई दिल्ली। देश में फेस्टिव सीजन दस्तक देने वाला है। ऐसे में रेलवे ने यात्रियों को बड़ी राहत देते हुए अतिरिक्त ट्रेनों को चलाने का फैसला लिया है। हालांकि, ये ट्रेनें एक सीमित समय के लिए चलाई जाएंगी। इन ट्रेनों में रोजाना, हफ्ते में चार बार, हफ्ते में एक बार चलने वाली ट्रेनें शामिल होंगी। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए रेलवे ने बड़ी घोषणा की और 392 नई फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है। इंडियन रेलवे ने दशहरा, दिवाली, छठ जैसे त्योहारों को देखते हुए 196 जोड़ी नई स्पेशल ट्रेनों को चलाने का ऐलान किया है।

रेलवे ने अक्टूबर से शुरू हो रहे त्योहारों को देखते हुए 196 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है। इन ट्रेनों को फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का नाम दिया गया है। त्योहारों के शुरूआत के साथ ट्रेनों में बढ़ने वाली भीड़ को नियंत्रित करने के लिए रेलवे ने ये कदम उठाया है। रेलवे ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए सभी जोन में फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनें चलाने की मंजूरी दी है।

रेलवे ने इन फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों के किराए को लेकर कहा कि इनका किराया वहीं होगा, जो रेलवे द्वारा चलाई जा रही स्पेशल ट्रेनों का है। रेलवे इन ट्रेनों को सीमिय समय के लिए चलाएगा। इन ट्रेनों को 20 अक्टूबर से लेकर 30 नंवबर के बीच चलाया जाएगा। ये स्पेशल ट्रेनें रोजाना, हफ्ते में चार बार, हफ्ते में एक बार चलने चलाई जाएंगी। इनके किराए में कुछ खास बदलाव नहीं किया गया है। जल्द ही इन ट्रेनों में टिकटों की बुकिंग शुरू की जाएगी।

रेलवे ने कहा है कि फेस्टिवल स्पेशल ट्रेनों का ऐलान करते हुए कहा कि सभी ट्रेनें सुपरफास्ट होंगी, जिनकी स्पीड न्यूनतम 55 किमी प्रति घंटे होगी। इन ट्रेनों में एसी-3 कोच की संख्या ज्यादा होंगी। आपको बता दें कि इससे पहले ही रेलवे ने त्योहारों के दौरान बढ़ती भीड़ को देखते हुए 15 अक्टूबर से नई स्पेशल ट्रेनों को चलाने का फैसला किया है। जिसमें मुंबई सेंट्रल से इंदौर के लिए, ओखा के लिए बांद्रा टर्मिनस से रामनगर, लखनऊ भुज निजामुद्दीन और अहमदाबाद के लिए चलने वाली ट्रेनें शामिल है। इससे पहले भी रेलवे ने 39 जोड़ी नई ट्रेनों को चलाने की मंजूरी दी थी। ये ट्रेनें स्पेशल ट्रेनों के तौर चलेंगी।