एक्शन मोड में रायपुर पुलिस, लाखों रूपए नगदी के साथ पकड़े गए 18 सटोरिए

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। रायपुर पुलिस ने विभिन्न एप, लिंक एवं एप्लीकेशन के माध्यम से ऑनलाइन लाईन सट्टा/जुआ संचालित करते 14 अंतर्राज्यीय सहित 18 सटोरियो को गिरफ्तार किया है. मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली थी, कि कुछ व्यक्ति थाना तेलीबांधा क्षेत्र में चार पहिया वाहन में घुम – घुम कर सट्टा/जुआ का संचालन करते हुये संबंधितों को सट्टा/जुआ के रकम का चुकारा भी कर रहे है। जिस पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटले, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध अभिषेक माहेश्वरी एवं नगर पुलिस अधीक्षक सिविल लाईन नसर सिद्धकी के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना तेलीबांधा पुलिस की संयुक्त टीम को सटोरियों की पतासाजी कर रंगे हाथ पकड़ने निर्देशित किया गया गया।

जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा मुखबीर द्वारा बताये वाहन एवं व्यक्तियों की पतासाजी प्रारंभ करते हुये वाहन को थाना तेलीबांधा क्षेत्रांतर्गत अवंति विहार स्थित शीतला तालाब पास चिन्हांकित किया गया जो खड़ी थी। टीम के सदस्यों द्वारा वाहन के पास जाकर देखने पर पाया गया कि 03 व्यक्ति वाहन के अंदर सवार थे जो लैपटाॅप एवं मोबाईल फोन रखें हुये थे। टीम के सदस्यों को देखकर उक्त दोनों व्यक्ति लैपटाॅप एवं मोबाईल फोन को तत्काल बंद कर दिये।

पूछताछ करने पर व्यक्तियों ने अपना नाम विकास अग्रवाल, सचिन अग्रवाल एवं अनिल उर्फ अतुल अग्रवाल निवासी तरूण नगर सिविल लाईन रायपुर होना बताया। टीम के सदस्यों द्वारा उनके पास रखें लैपटाॅप व मोबाईल फोन को चेक करने पर पाया गया कि उनके द्वारा विभिन्न एप, लिंक एवं एप्लीकेशनों के माध्यमों से आनलाईन सट्टा/जुआ का संचालन किया जा रहा है। जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा तीनों व्यक्तियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर उनके द्वारा एप, लिंक एवं एप्लीकेशनों के माध्यमों से आन लाईन काटपत्ती, तीन पत्ती, क्रिकेट, हाॅकी, फुटबाॅल एवं अन्य स्पोट्र्स व चुनाव एक्जिट पोल में सट्टा/जुआ का संचालन करने के साथ ही बताया गया कि उनके द्वारा तरूण नगर सिविल लाईन में एक मकान को किराये में लेकर मकान में आन लाईन सट्टा/जुआ का संचालन किया जाता है। जिस पर टीम द्वारा थाना सिविल लाईन क्षेत्रांतर्गत तरूण नगर स्थित व्यक्तियों द्वारा बताये मकान में रेड कार्यवाही किया गया। रेड कार्यवाही के दौरान मकान में 15 व्यक्ति उपस्थित थे जो विभिन्न लैपटाॅप, मोबाईल फोन एवं विभिन्न इलेक्ट्रानिक डिवाईसों से विभिन्न एप, लिंक एवं एप्लीकेशनों के माध्यमों से आन लाईन सट्टा/जुआ का संचालन कर रहे थे। पकड़े गये सटोरियों में से 14 सटोरियों बिहार के है।

पूछताछ में सटोरियों ने बताया कि उनके द्वारा विभिन्न एप, लिंक एवं एप्लीकेशनों के माध्यमों से आॅन लाईन आई.डी. ग्राहकों को दिया जाता था। आई.डी. में लाॅगिन के बाद ग्राहकों द्वारा आन लाईन रकम का भुगतान किया जाता है जिसके एवज में सटोरियों द्वारा ग्राहकों को क्वाईन प्रदान कर सट्टा/जुआ खिलाया जाता है। पकड़े गये सटोरियों के मुख्य सरगना सौरभ एवं रवि निवासी भिलाई जिला दुर्ग है जो विदेश में बैठकर इस कारोबार का संचालन करते है। सौरभ एवं रवि के द्वारा अलग – अलग बैंकों में फर्जी खाते खोलकर ग्राहकों से रकम स्थानांतरित कराया जाता है तथा पकड़े गये सटोरियों को उनके हिस्से का रकम हवाला के माध्यम से दिया जाता है। सट्टे/जुआ का कारोबार रोजाना करोड़ों रूपये में रहता है।

विदेश में बैठे सटोरिये सौरभ एवं रवि द्वारा फर्जी बैंक खातों में ज्यादा रकम आने पर रकम का आहरण कर खाता को बंद करा दिया जाता है तथा नया खाता खुलवाया जाता है। आरोपियों के कब्जे से करोड़ो रूपये की सट्टा/जुआ का हिसाब तथा 04 नग लैपटाॅप कीमती 2,000,00/- रूपये, 34 नग मोबाईल फोन कीमती 4,10,000/- रूपये, विभिन्न इलेक्ट्रानिक डिवाईस, नगदी 1,30,000 रूपये, तथा घटना में प्रयुक्त चार पहिया क्रेटा वाहन क्रमांक सी जी/13/डब्ल्यू/9335 कीमती 11,00,000/- रूपये जुमला कीमती लगभग 18,40,000/- रूपये जप्त किया गया। सटोरियों को गिरफ्तार कर उनके विरूद्ध थाना तेलीबांधा में अपराध क्रमांक 252/21 धारा 4क जुआ एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर अग्रिम कार्यवाही करने के साथ ही सभी सटोरियों के विरूद्ध पृथक से प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत् भी कार्यवाही किया गया।

पूछताछ में कई बैंक खातों की जानकारी प्राप्त हुई है, खातों को सीजिंग करने की प्रक्रिया की जा रहीं है। सट्टा/जुआ/क्रिकेट सट्टा खेलने/खिलाने वालों के विरूद्ध रायपुर पुलिस का यह अभियान लगातार जारी रहेगा।