स्व. राजीव गांधी को कंद-मूल खिलाने वाली बल्दी बाई को कोरोना, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जाना हालचाल

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। गरियाबंद जिला के मैनपुर विकासखंड अंतर्गत ग्राम कुल्हाड़ीघाट की रहने वाली 92 वर्षीय बल्दी बाई की कल रात एंटीजन टेस्ट में कोविड पॉजिटिव रिपोर्ट आयी है। इसके पूर्व उन्हें सामान्य सर्दी बुखार के लक्षण दिखाई दे रहे थे। कुल्हाड़ीघाट के स्वास्थ्य कार्यकर्ता द्वारा इसकी तत्काल जानकारी दी गई और कल रात्रि ही उन्हें सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मैनपुर में एडमिट किया गया। यहां एंटीजन टेस्ट और प्रारंभिक उपचार के पश्चात उन्हें रात में ही कोविड अस्पताल गरियाबंद रिफर किया गया। कलेक्टर निलेश क्षीरसागर के निर्देश पर सीएमएचओ डॉ नवरत्न ने कोविड-19 के बेहतर चिकित्सा के लिए उन्हें रायपुर मेकाहारा रिफर किया। वर्तमान में उनका रायपुर में ही उपचार जारी है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के संज्ञान में आते ही उन्होंने वरिष्ठ डॉक्टरों को तत्काल निर्देशित किया कि बल्दी बाई को बेहतर से बेहतर चिकित्सा मुहैया कराई जाए। उन्होंने बल्दी बाई के स्वास्थ्य पर चिकित्सकों को लगातार नजर रखने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने बल्दी बाई के जल्दी स्वस्थ होने की कामना की है। फिलहाल उनका स्वास्थ्य स्थिर है।

आपको बता दें कि अविभाजित मध्यप्रदेश के समय छत्तीसगढ़ क्षेत्र के प्रवास के दौरान ग्राम कुल्हाड़ीघाट में ही बल्दी बाई के घर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी काफी देर तक ठहरे थे और बल्दी बाई के हाथों से कन्द-मूल खाये थे।