भिलाई के रंजीत हत्याकांड : परिजनों ने जांच पर उठाए सवाल

Chhattisgarh Crimes

भिलाई। भिलाई के छावनी थाना क्षेत्र में बीते 18 जून की रात हुई रंजीत सिंह की हत्या के मामले में परिजनों ने पुलिस की जांच पर सवाल उठाए हैं। उनका आरोप है कि इस मामले में 10 से अधिक आरोपियों पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। वो लोग अपराध करने के बाद भी खुलेआम घूम रहे हैं।

रंजीत की मां कमलजीत कौर पिता जागीर सिंह पुल्लर, बहन और मामा मलकीत सिंह सहित कई लोगों ने मीडिया के सामने पुलिस की जांच पर सवाल उठाए। उनका कहना है कि 18 जून की शाम 6 बजे शुभदीप सिहं उर्फ पीटर, देवा उर्फ बछड़ा रंजीत को घर से लेकर गए थे। इसके बाद लक्की सिंह और रजत सिंह घर आए और बताया कि रंजीत की हत्या हो गई है।

इसके बाद पुलिस की जांच में जो सीसीटीवी आया है उसमें 18-20 लोग रंजीत को मारते हुए दिख रहे हैं। जबकि पुलिस ने सिर्फ 8 लोगों को ही गिरफ्तार किया है। सीसीटीवी फुटेज में आरोपियों के चेहरे दिखने के बाद भी उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया है। घटना को 39 दिन बीत गए हैं, लेकिन न तो सभी आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है न परिजनों को यह बताया जा रहा है कि आखिर हत्या किस वजह से की गई है। परिजनों की मांग है कि लोकेश पाण्डेय को फिर से रिमांड में लेकर पूछताछ की जाए कि उसने रंजीत की हत्या क्यों की।

इन लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

इस मामले में छावनी पुलिस ने लोकेश पाण्डेय, तत्कालीन भाजयुमो नेता, अमन भारती, निखिल, निखिल साहू, बिसेलाल, चिंटू, पिंटू और सोना उर्फ जोश अब्राहम को गिरफ्तार किया था।

इन लोगों की नहीं की जा रही गिरफ्तारी

परिजनों का आरोप है कि पुलिस इलियाज खान, टीपू हंस, फयूम खान, लक्की, पीटर उर्फ शुभदीप और बाबी बिहारी सहित कई अन्य लोगों को गिरफ्तार नहीं किया है। परिजनों का कहना है कि ये सभी लोग हत्या के दौरान वहां मौजूद थे और सीसीटीवी फुटेज में दिखाई भी दे रहे हैं।

परिजनों ने पुलिस से की ये मांग

  • रंजीत की हत्या क्यों की गई। पुलिस स्पष्ट कारण बताए।
  • हत्याकांड का वीडियो जेल में किसके पास भेजा गया था।
  • क्या रंजीत की हत्या की योजना जेल के अंदर बनाई गई थी।
  • क्या देवा उर्फ बछड़ा भी इस साजिश में शामिल है। उसकी गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई।
  • हत्याकांड में शामिल सभी आरोपियों पर अपराध क्यों नहीं दर्ज हो रहा है।
  • वीडियो में रंजीत का एक और दोस्त उर्फ गुरदीप इशारा करता हुआ दिख रहा है। उसकी गिरफ्तारी क्यों नहीं हो रही है।