नकली नक्सली बनकर लूट की वारदात को देते थे अंजाम, 6 गिरफ्तार

Chhattisgarh Crimes

दंतेवाड़ा। छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में एक अहम कामयाबी पुलिस के हाथ लगी है। पुलिस ने नकली बंदूकों के दम पर नक्सली बनकर जगह-जगह लूट की वारदात को अंजाम देने वाले 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। साथ ही लकड़ी की बनी नकली बंदूक, वर्दी और पिठ्ठू बरामद की है।

मामला कुआकोंडा थाना क्षेत्र का है। पुलिस ने बताया कि कुआकोंडा थाना क्षेत्र में 24 मई और 8 जून को वर्दीधारी नक्सलियों ने हल्बारास के सचिव सुखमन यादव और मोखपाल के सरपंच विनोद शोरी के घर से रात में नक्सली बनकर लूट की वारदात को अंजाम दिया था। इसकी एफआईआर कुआकोंडा थाने में दर्ज हुई थी। इस घटना की जांच के दौरान 6 लोग पुलिस के हत्थे चढ़े। पुलिस ने जानकारी दी कि गिरफ्तार आरोपी सीरियल लूट की वारदात को लगातार एक ही ट्रिक से अंजाम दे रहे थे।

सभी आरोपिायों की उम्र 18 वर्ष से लेकर 26 वर्ष तक है, जिन्होंने गूगल का सहारा लेकर और यूट्यूब वीडियो की मदद से पूरे क्राइम को अंजाम दे रहे थे। गिरफ्तार आरोपियों में भूषण मरकाम, लखन नाग, अंनत नाग, विशाल कुंजाम, दीपक ठाकुर और गौरीशंकर नाग है। ये सभी आरोपी कुआकोंडा थाना क्षेत्र के हैं। आरोपियों के पास से 1 मोबाइल, 2 बाइक, केमोफ्लाज टी शर्ट 3, नकली हथियार 4 और 2,600 रुपए बरामद किए गए हैं।