छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस पर जिला मुख्यालयों में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में संसदीय सचिव और विधायक होंगे मुख्य अतिथि

राज्य सरकार ने सभी जिलों के मुख्य अतिथियों की सूची की जारी

Chhattisgarh Crimes

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस पर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम में संसदीय सचिव और विधायकगण मुख्य अतिथि होंगे। इस संबंध में राज्य सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने मंत्रालय से जिलों में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम के मुख्य अतिथियों की सूची जारी कर दी है।

महासमुंद जिले में संसदीय सचिव विनोद सेवनलाल चन्द्राकर, धमतरी में संसदीय सचिव गुरूदयाल सिंह बंजारे, बलौदाबाजार-भाटापारा में संसदीय सचिव सुश्री शकुन्तला साहू, गरियाबंद जिले में विधायक अमितेश शुक्ल, दुर्ग में विधायक कुलदीप जुनेजा, राजनांदगांव में विधायक अरूण वोरा, कबीरधाम में विधायक श्रीमती ममता चन्द्राकर, बालोद में संसदीय सचिव डॉ. रश्मि आशीष सिंह और बेमेतरा में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय मुख्य अतिथि होंगे।

बिलासपुर में संसदीय सचिव इन्द्रशाह मंडावी, कोरबा में संसदीय सचिव द्वारिकाधीश यादव, रायगढ़ में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष बृहस्पत सिंह, मुंगेली में संसदीय सचिव कुंवर सिंह निषाद, जांजगीर-चांपा में संसदीय सचिव चन्द्रदेव प्रसाद राय, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही में संसदीय सचिव पारसनाथ राजवाड़े, सरगुजा में विधायक  विनय जायसवाल, कोरिया में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष गुलाब कमरो, जशपुर में संसदीय सचिव चिंतामणी महाराज, सूरजपुर में विधायक लालजीत सिंह राठिया और बलरामपुर में संसदीय सचिव यू.डी. मिंज सांस्कृतिक समारोह के मुख्य अतिथि होंगे।

इसी तरह राज्योत्सव के अवसर पर बस्तर में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष  लखेश्वर बघेल, कांकेर में संसदीय सचिव शिुशुपाल शोरी, दंतेवाड़ा में विधायक श्रीमती देवती कर्मा, सुकमा में संसदीय सचिव रेखचंद जैन, कोण्डागांव में बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष संतराम नेताम, नारायणपुर में विधायक चन्दन कश्यप और बीजापुर में विधायक विक्रम मण्डावी मुख्य अतिथि होंगे।