रायगढ़ के सरकारी स्कूल में इंटरवल के दौरान दो लड़कों ने छात्र के पेट में मारा चाकू; प्रेमप्रसंग में हत्या की आशंका

Chhattisgarh Crimes
रायगढ़। रायगढ़ में मंगलवार दोपहर सरकारी स्कूल में घुसकर 9वीं क्लास में पढ़ने वाले छात्र की चाकू मार कर हत्या कर दी गई। छात्र इंटरवल के दौरान ही क्लास से निकलकर कैंपस में पहुंचा था। इसी दौरान दो लड़कों ने उस पर चाकू से हमला कर दिया। इसके बाद आरोपी वहां से भग निकले। वारदात के बाद साथी छात्र उसे अस्पताल लेकर गए, लेकिन वहां उपचार के दौरान मौत हो गई। मामला कोतवाली क्षेत्र का है।

रामभाठा निवासी सागर टंडन (14) घर के पास ही स्थित कैलाश नाथ काटजू सरकारी स्कूल में कक्षा 9वीं का छात्र था। स्कूल में इंटरवल होने के बाद सभी छात्र-छात्राएं कैंपस में ही खेल रहे थे। कुछ लंच कर रहे थे। इसी दौरान दो लड़के अंदर घुस आए। उनमें और सागर के बीच विवाद होने लगा और कुछ देर में मारपीट शुरू हो गई। तभी एक लड़के ने चाकू निकाल कर सागर के पेट में मार दिया।

जान बचाकर स्टाफ रूम की ओर भागा छात्र, फिर वहीं गिर पड़ा

चाकू लगने पर सागर जान बचाकर क्लास से होता हुआ स्टाफ रूम की ओर भागा। इस दौरान सब जगह खून फैल गया। स्टाफ रूम में टीचर बैठ कर लंच कर रहे थे। सागर वहीं गिर पड़ा। इससे पहले की टीचर और अन्य स्टाफ कुछ समझ पाते अन्य छात्र भी पहुंच गए। सभी मिलकर सागर को स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र ले गए, लेकिन हालत गंभीर देख वहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

मारने वाले आरोपी भी नाबालिग

बताया जा रहा है कि स्कूल में ही पढ़ने वाली किसी छात्रा का आरोपी एक लड़के से प्रेमप्रसंग है। वह सागर से सीनियर क्लास में पढ़ती है। यह भी बताया जा रहा है कि उस लड़की ने सागर पर छेड़छाड़ का आरोप लगाकर अपने बॉयफ्रेंड से शिकायत की थी। इसे लेकर कुछ दिन पहले भी आरोपी और छात्र के बीच विवाद हो चुका है। तब मामला शांत हो गया था। यह भी बताया जा रहा है कि चाकू मारने वाले दोनों आरोपी नाबालिग हैं।

एक आरोपी हिरासत में, दूसरे की भी पहचान हुई

एडिशनल SP अभिषेक वर्मा ने बताया कि आपसी विवाद के चलते लड़कों ने छात्र को चाकू मारा है। एक लड़के को हिरासत में लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। वहीं दूसरे आरोपी लड़के की भी पहचान हो गई है। स्कूल के छात्र भी उसे पहचानते हैं। दूसरे आरोपी को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इसके बाद ही विवाद का असली कारण पता चलेगा। दोनों आरोपी नाबालिग हैं या नहीं यह जांच का विषय है।